हरियाणा में भी उत्तर प्रदेश की तर्ज पर दो दिन का लॉकडाउन करने पर प्रदेश सरकार विचार कर रही है। गृह मंत्री अनिल विज ने इस बात के संकेत दिए हैं। सूबे में गुरुग्राम, फरीदाबाद, रोहतक और झज्झर में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं। गृह मंत्री ने कहा कि हरियाणा में कोरोना के बढ़ रहे मामलों को लेकर सरकार गंभीर है। हालांकि रिकवरी रेट बढ़िया है। लेकिन रोजाना बढ़ रहे आंकड़ों को लेकर भी स्वास्थ्य विभाग चिंतित है। ऐसे में प्रदेश सरकार किसी भी समय कोई बड़ा फैसला ले सकती है।

हरियाणा में रोजाना मिल रहे 600 नए मामले

प्रदेश में इस समय रोजाना करीब 600 नए मामले कोरोना पॉजिटिव सामने आ रहे हैं। जिसमें अधिकतर मामले दिल्ली के साथ लगते क्षेत्रों में ही हैं। अनलॉक टू के साथ ही प्रदेश में कोराना का ग्राफ बढ़ गया है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग अपने स्तर पर एनसीआर क्षेत्र में लगातार अधिकारियों के माध्यम से निगरानी रखे हैं लेकिन कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है।

आपको बता दें कि पहले भी दिल्ली बार्डर दो बार सील हो चुका है। बार्डर सील होने पर सबसे अधिक दिक्कत दिल्ली में काम करने वाले व वहां के लोगों को होती है। रोजमर्रा की सप्लाई के अलावा दिल्ली में नौकरी पेशा लोग परेशान होते हैं। पहली बार जब बार्डर सील हुआ तो लोग हाईकोर्ट भी गए थे। जिसके बाद हाईकोर्ट के आदेशों का पालन करते हुए ही सरकार ने बार्डर सील किया था।

Join us on WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *