हरियाणा में पुलिस भी सुरक्षित नहीं है। सोहना के गांव बेरका में जमीनी विवाद की सूचना पर गए पुलिसकर्मियों पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया। ग्रामीणों ने पुलिसकर्मियों को पीसीआर (PCR) से उतारकर लाठी-डंडों से पीटा। वहीं एक हवलदार को घर में ले जाकर बंधक बना लिया और जमकर पिटाई की गई। पुलिस कर्मी को बंधक बनाकर मोबाइल फोन व रुपये भी लूट लिया। इतना ही नहीं आरोपियों ने पुलिस पीसीआर को पूरी तरह से तोड़कर क्षतिग्रस्त कर दिया। इस मामले में पुलिस ने करीब 10 ग्रामीणों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

घटना बीती देर रात उस समय की है जब पुलिस कंट्रोल रूम को सेंट्रल कंपनी के गार्ड ने सूचना दी कि बेरका गांव के कुछ लोग सेंट्रल पार्क में आये है और मुझे जान से मारने की धमकी दे रहे है। इस सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस पर पहले से ही घात लगाए बैठे लोगों ने पुलिस पार्टी पर हमला करते हुए एक पुलिस कर्मी को बंधक बना लिया।

भारी पुलिस बल तैनात

मौके से जान बचा कर भागे दो पुलिस कर्मियों ने हवलदार को घर के अंदर बंधक बनाए जाने की सूचना अधिकारियों को दी। जिसके बाद मौके पर भारी तादाद में पहुची पुलिस फोर्स ने कर्मी को छुड़ाया। इस मामले में पुलिस ने पांच नामजद आरोपिंयो के अलावा दर्जन भर अन्य महिला पुरुषों के खिलाफ 307 जैसी करीब आधा दर्जन संगीन धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है।

बता दें की पुलिस पार्टी पर हमला करने वाले उक्त आरोपियों ने दो दिन पहले सेंट्रल पार्क के इंचार्ज कर्नल संदीप दत्ता को भी व्हाट्सएप पर जान से मारने की धमकी दी थी। जिस पर पुलिस ने आरोपी बल्लू पूर्व सरपंच गांव बेरका के खिलाफ 323व 506 के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया हुआ है।

Join us on Facebook

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *