Barara

बराड़ा, 5 मई (रमन वधवा): जिला अंबाला की सक्षम एकेडमिक टीम के कॉडिनेटर दिलबाग सिंह ने बताया कि अध्यापकों के सतत प्रयासों व लगातार डिजिटल प्लेटफार्म पर जुड़े रहने के कारण ही अंबाला वन प्रथम प्रयास में ही सक्षम हो गया तो ही साहा ब्लॉक ने भी सक्षम ब्लॉक का खिताब पाया।

वहीं अन्य ब्लॉकों का परिणाम भी पहले से बेहतर रहा है। उन्होंने बताया कि सक्षम की यह परीक्षा फरवरी माह में आयोजित की गई थी। उन्होंने बताया कि इस परीक्षा में वह ब्लॉक सक्षम माना जाता है, जिसमें प्रत्येक कक्षा में 80 प्रतिशत से ज्यादा विद्यार्थी 50 प्रतिशत से ज्यादा अंक प्राप्त करते हैं।

उन्होंने कहा कि हालांकि चार ब्लॉक अभ सक्षम के पास है। जल्दी ही इन्हें भी सक्षम ब्लॉक की श्रेणी में का खड़ा किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि प्रदेश के 119 ब्लॉक में से 22 ब्लॉक सक्षम हुए है। सक्षम परीक्षा फरवरी में 2 बार हुई थी। कक्षा तीसरी से आठवीं तक सक्षम परीक्षा ली गई थी। तीसरी कक्षा में हिंदी और गणित, चौथी और 5 वीं हिंदी, गणित, ईवीएस, जबकि छठी से 8वीं तक हिंदी, गणित, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान विषयों की परीक्षा ली गई। इन सभी कक्षाओं के विषयों को मिलाकर कुल 20 विषयों की सक्षम परीक्षा हुई थी। उन्होंने बताया कि इसका श्रेय डाईट मोहड़ा के प्रो. बलराम, संबंधित अध्यापकों की मेहनत, एबीआरसी, बीआरपी आदि को जाता है।

देश दुनिया की तमाम खबरों के ताजा अपडेट के लिए हरियाणा लाइव के फेसबुक पेज को लाइक करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *