नूंह. सरकार व इलाके के धार्मिक लोगों द्वारा कोरोना मामले में बार-बार अपील के बावजूद भी जो लोग जांच कराने के लिए आगे नहीं आए और देरी से जांच कराने पर कोरोना पॉजिटिव पाए गए उनपर सरकार सख्त होती दिखाई दे रही है। साथ ही जिन गांवों के सरपंच, पंच और नंबरदार जैसे जिम्मेदार लोगों ने जमातियों की जानकारी शासन-प्रशासन को देने के बजाय उन्हें छुपाए रखा उन सब के खिलाफ भी अब खाकी ने सख्त रुख अपना लिया है।

पिनगवां थाना क्षेत्र के अंतर्गत गांवों में कोरोना पॉजिटिव केस काफी ज्यादा मात्रा में मिल रहे हैं। पिनगवां थाना क्षेत्र के गांव बुबलहेड़ी, गंगवानी,  डूंगेजा इत्यादि ग्राम पंचायतों के क्षेत्र के अंदर जो कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं, उन इलाकों के सरपंचों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किए जा रहे हैं।

बता दें कि डूंगेजा-बुबलहेड़ी में 1-1 तथा गंगवानी ग्राम पंचायत के अंतर्गत आने वाले जाख गांव में दो कोरोना के केस सामने आए हैं। पुलिस अधिकारी रतनलाल पिनगवां ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि न केवल कोरोना संदिग्ध लोगों ने सामने आने की हिम्मत की, लेकिन उससे भी बड़ी बात यह है कि इन गांवों के पंच, सरपंच, नंबरदार इत्यादि ने भी इन संदिग्ध मरीजों के बारे में शासन-प्रशासन को कोई जानकारी नहीं दी। अब विभिन्न धाराओं में उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

2 thoughts on “नूंह: जमातियों की जानकारी छिपाने वाले सरपंच, पंच और नंबरदारों के खिलाफ FIR दर्ज”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *