कोरोना अपडेट: हरियाणा में स्वास्थ्य विभाग ने घर-घर जाकर स्क्रीनिंग का काम बड़े स्तर पर शुरू कर दिया है। हरियाणा बके करीब 20 हजार स्वास्थ्य कर्मचारी इस काम में लगाए गए हैं। इस स्क्रीनिंग के माध्यम से पता लगाया जाएगा कि प्रदेश में पाजिटिव मामलों की संख्या कितनी है। अभी तक सरकार तब्लीगी जमात के लोगों से ही निपट रही थी। फिलहाल जिन लोगों की संक्रमण की संभावना थी, उनका ही टेस्ट किया जा रहा था। अब घर घर हो रही स्क्रीनिंग के बाद कोरोना के अधिक टेस्ट होंगे और संक्रमित व्यक्तियों का सही डाटा सामने आएगा। जिसके साथ ही इलाज की प्रक्रिया भी शुरू हो जाएगी

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने विडियो कान्फ्रेंसिंग से इस बात की जानकारी दी है। उन्होंने कंटेनमेंट जोन में जाने वाले पुलिसकर्मियों के लिए भी पीपीई किट आवश्यक कर दी है। जिससे पंजाब जैसी घटना की हरियाणा में कोई घटना न हो। आपको बता दें कि पंजाब पुलिस के एक अधिकारी की कोरोना के कारण मौत हो गई है।

विज ने बताया कि सफाई कर्मचारी हो या स्वास्थ्य कर्मी या फिर पुलिस कर्मी कंटेनमेंट जोन में जाने वाले सभी कर्मचारियों का टेस्ट भी करवाया जाएगा। वहीं शराब तस्करी पर पूछे सवाल पर उन्होंने बताया कि अब तक 80 हजार शराब की बोतलें पकड़ीं जा चुकी हैं।

उन्होंने बताया कि सरकार के पास पर्याप्त मात्रा में पीपीई किट मौजूद हैं। करीब 26 हजार पीपीई किट हमने जिलों में मुहैया करवाई हैं। जबकि इतनी ही संख्या में किट हमारे पास वेयरहाउस में मौजूद हैं। हरियाणा मेडिकल कार्पोरेशन लिमिटेड को किट तथा अन्य उपकरणों की खरीद की जिम्मेदारी दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *