Dadri-cmo

चरखी दादरी. दादरी के सिविल सर्जन पर कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट गलत देने पर कार्यवाही हुई है। शिकायत पर स्वास्थ्य सेवाओं के निदेशक डॉ. बीएम बागड़ी (Dr. B. M. Bagdi) जांच के लिए दादरी पहुंचे। इस दौरान उन्होंने दो घंटे तक बंद कमरे में सीएमओ व शिकायतकर्ता से पूछताछ की। पूछताछ के बाद उन्होंने बताया कि शीघ्र ही जांच रिपोर्ट तैयार कर सरकार को भेजी जाएगी।

बिना सैंपल लिए बता दिया कोरोना पॉजिटिव

एडवोकेट संजीव तक्षक द्वारा कुछ दिनों पूर्व ही गृह मंत्री अनिल विज को दादरी के सीएमओ डॉ. प्रदीप शर्मा के खिलाफ शिकायत भेजी गई थी। इस शिकायत में शिकायतकर्ता द्वारा बताया गया कि सीएमओ ने कोविड-19 के दौरान कोरोना पॉजिटिव की गलत रिपोर्ट देकर मीडिया में भय का माहौल बनाया था। यह बताया गया कि झोझू कलां निवासी कैंटर चालक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो सीएमओ द्वारा चालक के साथी क्लीनर की भी रिपोर्ट पॉजिटिव बताकर क्षेत्र में भय का माहौल बना दिया। जबकि क्लीनर का कोई भी सैंपल नहीं लिया गया था। बाद में स्वास्थ्य विभाग द्वारा क्लीनर का सैंपल लिया गया तब उसकी रिपोर्ट नेगेटिव मिली। इस सबसे क्लीनर के परिजनों को काफी परेशानियां झेलनी पड़ी।

डॉ. बीएम बागड़ी को बनाया गया है जांच अधिकारी

शिकायतकर्ता ने यह भी आरोप लगाया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा गलत आंकड़े देकर समाज में इस परिवार को नफरत की नजर से देखा जाने लगा। ऐसे में गलत आंकड़े देने पर सीएमओ के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की गई है। इसकी शिकायत मिलने पर विभाग द्वारा स्वास्थ्य सेवाओं के निदेशक डॉ. बीएम बागड़ी को जांच अधिकारी बनाया गया है। डॉ. बीएम बागड़ी दादरी के सिविल अस्पताल में जांच के लिए पहुंचे और सीएमओ के साथ-साथ नोडल अधिकारी व शिकायतकर्ता से बंद कमरे में पूछताछ की गई। जांच में शामिल हुए सभी लोगों ने अपने बयान दर्ज करवाए।

वहीं जांच अधिकारी स्वास्थ्य सेवाओं के निदेशक डॉ. बीएम बागड़ी ने बताया कि वे जांच के उद्देश्य से आए थे और विभाग अधिकारी व शिकायतकर्ताओं के बयान ले लिए गए हैं। जांच रिपोर्ट शीघ्र ही सरकार को भेज दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *