haryana-cm

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दो टूक कह दिया कि स्थानीय निकायों के चुनाव सीधे ही होंगे औऱ इस फैसले को अब बदला नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि विज को अगर कोई शिकवा है तो बैठकर बात कर बात कर ली जाएगी। बता दें कि स्थानीय निकायों के चुनाव को लेकर अनिल विज जहां सीधे चुनावों का विरोध कर रहे है तो वहीं मुख्यमंत्री इस फैसले को बदलने के लिए कतई तैयार नहीं है। हालांकि इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री और अनिल विज में तकरार की बातें भी सुनने में आ रही है।

अनिल विज के कहने पर ही बदला गया था कानून, अब विज ही उतरे विरोध में

बता दें कि मनोहर सरकार के पहले कार्यकाल के दौरान विज की अध्यक्षता वाली कैबिनेट सब-कमेटी की सिफारिश पर ही नगर निगमों में मेयर, नगर परिषदों व नगरपालिकाओं में अध्यक्ष/चेयरमैन के सीधे चुनाव का फैसला हुआ था। विज कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में नगर निगमों में हेयर के चुनाव सीधे करवाने और इनका कार्यकाल पांच वर्ष किए जाने की सिफारिश की थी।

इसी रिपोर्ट में कहा गया था कि निगमों में सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर का फैसला निगम पार्षदों पर ही पहले की तरह छोड़ना चाहिए। कैबिनेट में विज कमेटी की रिपोर्ट पर मनोहर लाल के बाद विधानसभा में बिल पास करके कानून भी बदलवा दिया था।

कानून बदलने के बाद रोहतक, हिसार, करनाल, पानीपत व यमुनानगर निगम में मेयर के सीधु चुनाव भी करवाए जा चुके है। लेकिन अब अनिल विज इस फैसले का विरोध कर रहे है।

Join us on WhatsApp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *