हरियाणा सरकार के रोजगार बचाने के दावे धरातल पर फैल होते दिखाई दे रहे है। दरअसल बुरी खबर ये है कि सरकारी महकमों ने लॉकडाउन के बीच बड़े पैमाने पर अनुबंध कर्मियों की छंटनी कर दी है। नौकरी से निकाले गए कच्चे कर्मचारी कई सालों से अपनी सेवाएं दे रहे थे। ऐसे में निजी कंपनियों के कर्मचारियों का रोजगार बचाना तो दूर सरकार अपने कर्मचारियों की नौकरी ही सुरक्षित नहीं रख पा रही है। वहीं अगर लॉकडाउन ओर लंबा चला तो महकमे और कच्चे कर्मचारियों को भी निकाल सकते हैं।

अभी तक के आंकड़ों की बात करे तो मीरपुर यूनिवर्सिटी, रेवाड़ी से 84 सहायक प्रोफेसर व 8 चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, हरियाणा शिक्षा विभाग से 202 वोकेशनल टीचर, नगर निगम सोनीपत से 180 सफाई कर्मचारी, हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम से 54 व हरियाणा उत्पादन निगम से 10 कर्मचारी अबतक निकाले जा चुके हैं। वहीं सैकड़ों की संख्या में फायर ब्रिगेड कर्मचारियों के अलावा पालिका व परिषदों में भी सफाई कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त की गई हैं।

हालांकि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के संज्ञान में भी मामला आ चुका है। सीएम कार्यालय ने सभी विभागों, बोर्ड, निगमों व अन्य संस्थानों से लॉकडाउन के दौरान निकाले गए कर्मचारियों की सूचना भी मांगी है। मंगलवार को सर्व कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सुभाष लांबा ने सीएम के साथ हुई वीडियो कांफ्रेंसिंग में भी यह मामला उठाया था। अब देखना होगा मुख्यमंत्री निकाले गए कर्मचारियों पर क्या फैसला लेते हैं।

One thought on “सरकार के दावे फैल / सरकारी महकमों से लॉकडाउन के बीच सैकड़ों अनुबंध कर्मचारियों की छंटनी”
  1. Main district Sirohi Rajasthan mein fasa hua hun mujhe Ghar Jana Hai Aap Logon Se Meri gujarish se ki mujhe jald se jald Ghar pahunche yah Hamara number 93 99 519 830

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *