इस बार आईपीएल को भूल जाएं: गांगुली

नई दिल्ली. देश में लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ा दिए जाने की वजह से आईपीएल फिर टल गया है। बीसीसीआई के सूत्रों ने मंगलवार दोपहर यह जानकारी दी। बोर्ड सूत्रों ने अभी यह नहीं बताया है कि अब आईपीएल का शेड्यूल क्या होगा। हालांकि, मौजूदा हालात और इंटरनेशनल शेड्यूल के चलते इसका दिसंबर के पहले होना मुश्किल लग रहा है। जून से सितंबर तक मानसून सीजन रहता है। 18 अक्टूबर से ऑस्ट्रेलिया में टी-20 वर्ल्ड कप भी खेला जाना है। यह मध्य नवंबर तक चलेगा। इसके बाद भी टीमों की आपसी सीरीज का कैलेंडर तय रहता है। इस शेड्यूल के बीच ही बीसीसीआई को आईपीएल के लिए खाली तारीखें तलाशनी होंगी। ऐसा होता है तो भी दिसंबर के पहले आईपीएल होना संभव नहीं लग रहा है। इन स्थितियों में आईपीएल का फॉर्मेट भी पहले से छोटा हो सकता है।

पहले यह टूर्नामेंट 29 मार्च से शुरू होना था, लेकिन कोरोना और वीजा प्रतिबंध के कारण 15 अप्रैल तक के लिए इसे टाल दिया गया था।

अब 37 दिन का हो सकता है आईपीएल शेड्यूल

इस बार आईपीएल 50 दिन की बजाए 44 दिन का होना था। सभी 8 टीमों को 9 शहरों में 14-14 मैच खेलने हैं। इनके अलावा 2 सेमीफाइनल, 1 नॉकआउट और 24 मई को वानखेड़े में फाइनल होना था, लेकिन बीसीसीआई अब इसका फॉर्मेट और छोटा करके 2009 की तरह 37 दिन का कर सकती है। 2009 में लोकसभा चुनाव के कारण आईपीएल दक्षिण अफ्रीका में खेला गया था। यह पांच सप्ताह और दो दिन के अंदर खत्म हो गया था।

इस बार आईपीएल को भूल जाएं: गांगुली

बीसीसीआई अध्यक्ष गांगुली ने रविवार को कहा था, ‘‘हम परिस्थितियों पर नजर बनाए हुए हैं। फिलहाल की स्थिति में कुछ भी स्पष्ट नहीं कहा जा सकता है। अब कोई तरीका नहीं बचा है। एयरपोर्ट बंद है, लोग घरों में कैद रहने को मजबूर हैं। सभी ऑफिस बंद हैं। कोई कहीं आ या जा नहीं सकता। यह स्थिति आधी मई तक रहने की संभावना है। ऐसी स्थिति में खिलाड़ियों को कहां से लाएंगे और उन्हें यात्रा कैसे कराएंगे। कॉमन सेंस है कि यह स्थिति दुनियाभर में किसी भी खेल के अनुसार नहीं है। आईपीएल को भूलें।’’