जींद: जिले के गांव डिडवाड़ा में वीरवार को दिल-दहला देने वाली घटना सामने आई है। वीरवार को गांव में हुई पंचायत में जब एक बेरहम पिता ने सच उगला तो हर कोई सन्न रह गया। पिता ने कबूला की उसने अपने ही पांच बच्चों को मौत के घाट उतार दिया वो भी तांत्रिक के कहने पर। हालांकि पहले उसने कहा की वह अपने बच्चों का पालन पोषण करने में असमर्थ था।

मामले से पर्दा तब उठा जब पूछताछ के दौरान पुलिस को पिता के दिए बयान पर शक हुआ। हैरानी की बात यह भी थी कि बेरहम पिता ने पांचों बच्चों की हत्या कर सभी को गुमराह तक करने का प्रयास भी किया। उसने खुद पुलिस में जाकर इसकी शिकायत भी की। बीते दो दिन पहले पिता ने अपनी दोनों बेटियों का कत्ल कर नहर के अलग-अलग हिस्सों में फेंक दिया और पुलिस के पास जाकर अज्ञात लोगों के खिलाफ दो बेटियों को बंधक बनाने का मामला दर्ज करवा दिया।

जानकारी के मुताबिक 15 जुलाई को दो लड़कियां घर से गायब हो गई। छोटी बेटी का शव 18 जुलाई और बड़ी बेटी का शव 21 जुलाई को नहर के अलग-अलग हिस्सों में तैरता मिला था, जिसके बाद पुलिस व लोगों की मदद से दोनों शवों को बाहर निकालकर शवगृह में रखवा दिया था, जिसमें दोनों की मौत डूबने के कारण बताई गइ्र थी। पंचायत में जब आरोपी से सच्चाई उगलवाई तो हर कोई सुनकर सन्न रह गया। आरोपी ने बताया कि दोनों बेटियों से पहले भी उसने तीन बच्चों को मौत के घाट उतार दिया था।

सभी बच्चों की उम्र थी 11 साल से कम

आरोपी जुम्मा के सभी बच्चो की उम्र 11 साल से कम थी। हालांकि उसने पूरे मामले में पंचायत के सामने आकर माफी मांगी है जिसके बाद पुलिस को बुलाकर आरोपी को गिरफ्तार करवाया गया है। आरोपी को पकड़ने की पुष्टि देर रात जींद के एसपी अश्विन शैणवी ने की है। मामले के खुलासा होने के बाद पूरे जिले में सनसनी फैल गई है। आरोपी की तीन लड़कियां और दो लड़के बताए जा रहे है जिन सबकी हत्या कर दी गई है।

Join us on Facebook

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *