• आरोपित महिला अब अपनी बेटी की हत्या की कर रही थी प्लानिंग।
  • पति को सब्ज़ी में देती थी नशे की गोलियां

सिरसा में एक बेहद चौकाने वाली घटना सामने आई है। एक व्‍यक्ति की मौत हुई तो साले को शक हुआ कि ये हादसा नहीं बल्कि हत्‍या है। भाई के शक की सुई टिकी थी अपनी ही सगी बहन पर। जो पति को मरवाने के बाद बेटी को भी मारने का षडयंत्र रचने लगी थी।

जब उसकी हरकतों पर भाई को शक हुआ तो उसका वाट्स एप हैक कर लिया। बहन की करतूतों का काला चिट्ठा वाट्स एप पर खुला तो पैरों तले से जमीन खिसक गई। भाई की सूचना पर पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो महिला ने पति की हत्या की सच्चाई बयां कर दी।

सच्चाई सामने आने के बाद पुलिस ने डबवाली के वार्ड नं. 20 निवासी 33 वर्षीय संदीप की हत्या के जुर्म में उसकी पत्नी ममता, गांव सिंघेवाला निवासी राम सिंह तथा कप्तान सिंह को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार राम सिंह मृतक की पत्नी ममता का प्रेमी है। 23 मई की रात करीब 9.30 बजे ममता ने नशे में प्रयोग होने वाली छह गोलियां पीसकर आलू-शिमला मिर्च में मिला दी थीं।

बाद में रोटी के साथ सब्जी पति को परोस दी। पति बेहोश हो गया तो ममता तथा राम सिंह ने बेहोश संदीप को उठाकर जीप में डाल दिया। उस दिन लॉकडाउन था, तो राम सिंह तथा उसका दोस्त जीप में पेशेंट होने की बात कहकर हरियाणा तथा पंजाब पुलिस का नाका क्रॉस कर गए। गांव लंबी-पंजावा मार्ग पर राजस्थान नहर के पुल से ही उन्होंने संदीप को जिंदा ही नहर में फेंक दिया।

भाई ने वेब वाट्स एप से पकड़ी बहन की करतूत

बताया गया की पति को ठिकाने लगाने के बाद ममता डिप्रेशन का बहाना करने लगी थी। रात को सभी सो जाते तो वह अपने प्रेमी के साथ व्हाट्सएप एप्प पर बातचीत करने लगती। मंगू को बहन की हरकतों पर संदेह होने लगा था। उसने बहन का मोबाइल लेकर उसके व्हाट्सएप एप्प को वेब व्हाट्सएप एप्प के जरिए लॉगिन कर लिया।

पता लगा की दोनों वॉटस एप्प पर चैट नहीं, बल्कि स्टेटस पर मैसेज लिखकर बातचीत करते हैं। दोनों ने प्राइवेसी लगाई हुई कि कोई दूसरा उनका स्टेटस नहीं पढ़ सकता। भाई वह स्क्रीन शॉट लेता रहा। उसकी बहन प्रेमी से मिलकर अपनी 12 वर्षीय बेटी को मारने की योजना बनाने लगी तो भाई ने पुलिस के आगे बहन की करतूत का काला चिट्ठा खोल दिया।

Join us on Facebook

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *