Ambala-news-update

कोरोना वायरस के कारण पूरे देश में लॉकडाउन जारी है। साथ ही जारी है मजदूरों का पलायन लॉकडाउन के कारण लोग फंसे हुए हैं। कई शहरों से मजदूर अपने घरों की ओर पलायन कर रहे हैं। चलते-चलते उनकी चप्पलें भी घिस गई हैं लेकिन तमाम कठिनाइयों को सहते हुए भी वे घरों की ओर जा रहे हैं।

आज पंजाब से पलायन कर हरियाणा में दाखिल हुए प्रवासी मजदूर अंबाला की सड़कों पर बिना चप्पलों के दिखाई दिए। किसी की चप्पलें घिस गई तो पुलिस के खदेड़ने के बाद कुछ मजदूरों की चप्पलें छूट गई। इसके बावजूद भी उन्होंने हार नहीं मानी और पानी की बोतलों को पैरों में बांधकर उसी को ही चप्पल बना लिया और मंजिल की ओर चल पड़े।

इसे भी पढ़े: कांग्रेस पार्टी को झटका, ED ने कुर्क की 16.38 करोड़ रुपये की संपति

दरअसल, अपने गांव जा रहे प्रवासी मजदूर जब पैदल ही नेशनल हाइवे पर कूच करने लगे तो अंबाला पुलिस ने मजदूरों को वापस पंजाब की तरफ खदेड़ दिया। इसी भगदड़ में कई प्रवासी मजदूरों के जूते-चप्पल सड़क पर ही छूट गए और उन्हें तपती धूप में पैदल ही चलना पड़

अंबाला विधायक ने की मदद

अंबाला के विधायक असीम गोयल ने इन प्रवासी मजदूरों को जब हरियाणा-पंजाब की सीमा पर इस हालत में देखा तो उन्होंने नई चप्पलें मंगवाकर मजदूरों को पहनाई। इसके बाद विधयाक ने पंजाब पुलिस से आग्रह किया कि इन मजदूरों को उनके घर वापस जाने दिया जाए, इसके लिए उन्होंने अधिकारियों से भी बात की।

Asim-goyal-bjp
अंबाला विधायक असीम गोयल ने मजदूरों को दी नई चप्पलें और खाना।

इसके बाद विधायक ने पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से भी बात की। साथ ही उन्होंने पैदल जा रहे मजदूरों को चप्पल के अलावा नाश्ते का भी इंतजाम करवाया।

इसी तरह की खबरों के लिए जुड़िए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से।

One thought on “चलते-चलते घिस गई चप्पलें, पैरों में पानी की बोतल बांधकर चल रहे मजदूर”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *