मणिपुरी युवती को ‘कोरोना’ कहकर की गई मारपीट, मानवधिकार आयोग ने हरियाणा सरकार से मांगा जवाब

आरोप है कि मणिपुरी युवती को 'कोरोना' कहकर मारपीट की गई

गुरुग्राम. मणिपुर की एक 20 वर्षीय युवती को ‘कोरोना’ कहने और उससे मारपीट करने के मामले में बड़ा मोड़ आया है। मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) नें संज्ञान लेते हुए हरियाणा (Haryana Government) सरकार और गुरुग्राम पुलिस को नोटिस जारी किया है।

एनएचआऱसी ने 4 हफ्ते में हरियाणा सरकार और गुरुग्राम पुलिस को इस मामले पर स्थिति साफ करने को कहा है। आरोप है कि गुरुग्राम में बीते रविवार झाड़सा में मणिपुरी युवती पर कुछ लोगों ने हमला किया था। दरअसल, युवती को एक वृद्ध महिला ने रोका और अपशब्द कहे जिसका विरोध करने पर उसे कथित तौर पर ‘कोरोना’ कहा गया। इसके बाद महिला के बेटे-बहू ने युवती को लाठी-डंडों से पीटा था।

इसे भी पढ़े: उत्तरप्रदेश में बड़ा सड़क हादसा, 24 मजदूरों की मौत

Related Post

वहीं इस मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने मीडिया रिपोर्टों के आधार पर संज्ञान लिया है कि मणिपुर की रहने वाली 20 वर्षीय लड़की पर नस्लीय भेदभाव किया गया। 10 मई को हरियाणा के गुरुग्राम के कुछ स्थानीय लोगों द्वारा क्रूरतापूर्वक हमला किया गया। एनएचआरसी ने हरियाणा सरकार और पुलिस आयुक्त, गुरुग्राम (Gurugran) को मामले में विस्तृत रिपोर्ट देने के लिए नोटिस जारी किया गया है। 4 सप्ताह के भीतर पुलिस द्वारा जांच की स्थिति साफ करने को कहा गया है।

आपको बता दें इस मामले में दोनों पक्षों की ओर से पुलिस में शिकायत दर्ज की गई है। मामले में बादशापुर पुलिस जांच कर रहीं हैं।

हरियाणा की ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए जुड़िए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े।

Leave a Comment