राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मार्च में पीएम केयर्स फंड में एक महीने का वेतन का योगदान दिया था और अब उन्होंने एक साल के लिए अपने वेतन में 30 फीसदी की कटौती का फैसला लिया है।

दरअसल कोरोना वायरस के कारण देशभर में लॉकडाउन लागू है, जिसके चलते अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान हुआ है। हालांकि, इसे पटरी पर लाने के लिए सरकार की तरफ से 20 लाख करोड़ रुपये का आर्थिक पैकेज दिया गया है।

राष्ट्रपति भवन की विज्ञप्ति के अनुसार, गुरुवार को जारी किए गए सामाजिक सुरक्षा प्रतिबंधों का पालन करने और खर्च को कम करने के लिए राष्ट्रपति के घरेलू पर्यटन और कार्यक्रमों में काफी कमी की जाएगी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कोविड-19 महामारी के खिलाफ सरकार की लड़ाई में सहायता करने के लिए अन्य कठोर उपायों की घोषणा करने के अलावा अपने लिए 30 प्रतिशत वेतन कटौती का फैसला किया है।

घर पर होने वाले समारोह और राज्य भोज जैसे औपचारिक अवसरों के दौरान खपत को भी कम से कम किया जाएगा। इसके लिए छोटी अतिथि सूची रखी जाएगी, भोजन मेन्यू को कम करने और फूलों और अन्य सजावटी वस्तुओं के उपयोग को कम किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *