राम जन्मभूमि: खुदाई में मिली मूर्तियां ओर शिवलिंग, संतों ने कहा- यह राम मंदिर का प्रमाण है

अयोध्या के राम जन्मभूमि परिसर में चल रहे समतलीकरण कार्य के दौरान राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को कई पुरातात्विक मूर्तियां, खंभे और शिवलिंग मिले हैं। 4 फीट से बड़ा एक शिवलिंग उस हिस्से से मिला है जहां मलबा हटाने और समतलीकरण का काम चल रहा था। खुदाई के दौरान भारी संख्या में देवी-देवताओं की खंडित मूर्तियों के अतिरिक्त 7 ब्लैक टच स्टोन के स्तम्भ, 6 रेड सैंडस्टोन के स्तम्भ सहित 4 फीट से बड़ा एक शिवलिंग भी मिला है।

आपको बता दें कि श्री रामजन्मभूमि परिसर में यह पुरातत्विक महत्व के स्तम्भ और खंडित मूर्तियां उस गर्भगृह के नीचे से मिली हैं जहां पहले रामलला विराजमान थे। उस स्थान पर राम मंदिर की नींव तैयार करने के लिए क्रेन और ट्रैक्टरों के जरिये मलबे को हटाने के साथ समतलीकरण का काम चल रहा है। माना जा रहा है कि राम मंदिर की नींव तैयार करने के लिए जो खुदाई होगी, उसमें पुरातत्विक महत्व के और ऐसे साक्ष्य मिलेंगे जो सदियों पुराने राम मंदिर से जुड़े हो सकते हैं।

साधु-संतों में ख़ुशी की लहर

गर्भ गृह के नीचे मंदिर से जुड़े अवशेष मिलने के बाद अयोध्या के साधु संतों में खुशी की लहर है। वे कहते हैं कि पुरातत्व विभाग और उन्होंने जो कुछ भी कहा था, वह सच साबित हो रहा है। इसके लिए वह पुरातत्व विभाग को धन्यवाद देना चाहते हैं। पुरातत्व विभाग की खुदाई में भी मंदिर से जुड़े ऐसे ही अवशेष मिले थे। श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ने बाकायदा एक प्रेस रिलीज जारी कर इस बात की जानकारी दी कि ये तमाम चीजें पिछले 10 दिनों की खुदाई के दौरान मिली हैं।